Home » भारत » झारखंड मुख्यमंत्री सुखाड़ राहत योजना 2024 से 30 लाख लोगों को मिलेगा लाभ, जाने क्या है पूरी जानकारी

झारखंड मुख्यमंत्री सुखाड़ राहत योजना 2024 से 30 लाख लोगों को मिलेगा लाभ, जाने क्या है पूरी जानकारी

Photo of author

Edited By: Prabhat Chaudhary

Updated on:

फॉलो करें:

मुख्यमंत्री सुखाड़ राहत योजना झारखंड राज्य में किसानों को सूखे के दौरान आर्थिक सहायता प्रदान करने के उद्देश्य से शुरू की गई थी। इस योजना का लाभ 30 लाख से अधिक किसानों तक पहुँचाने का लक्ष्य है। यह योजना 29 अक्टूबर 2018 को मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन द्वारा शुरू की गई थी। आइए, इस योजना के विभिन्न पहलुओं और लाभों के बारे में विस्तार से जानते हैं।

योजना की शुरुआत और उद्देश्य

मुख्यमंत्री सुखाड़ राहत योजना का उद्देश्य झारखंड के किसानों को सूखे और प्राकृतिक आपदाओं से राहत प्रदान करना है। इस योजना के तहत किसानों को 3,500 रुपये की वित्तीय सहायता प्रदान की जाती है, जिससे उनकी आर्थिक स्थिति में सुधार हो सके। यह योजना विशेष रूप से उन किसानों के लिए है जो सूखे के कारण फसल की हानि का सामना कर रहे हैं।

योजना का विस्तार

इस योजना के तहत झारखंड के 22 जिलों के 226 ब्लॉकों को सूखा प्रभावित क्षेत्र घोषित किया गया है। झारखंड सरकार ने इस योजना के लिए 49 करोड़ रुपये का बजट आवंटित किया है, जिससे लगभग एक लाख किसानों को सहायता मिल चुकी है। देवघर जिले के 1,67,098 किसानों को इस योजना के तहत लाभ दिया गया है।

पात्रता मानदंड

इस योजना का लाभ लेने के लिए कुछ आवश्यक योग्यताएं निर्धारित की गई हैं:

  • आवेदक झारखंड का स्थायी निवासी होना चाहिए।
  • आवेदक की आयु 18 वर्ष या उससे अधिक होनी चाहिए।
  • आवेदक का कोई भी परिवारिक सदस्य इनकम टैक्स का भुगतान नहीं करता हो।
  • केवल किसान ही इस योजना के लिए पात्र हैं।

आवश्यक दस्तावेज

मुख्यमंत्री सुखाड़ राहत योजना के लिए आवेदन करने के लिए निम्नलिखित दस्तावेजों की आवश्यकता होती है:

  • आधार कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • आय प्रमाण पत्र
  • किसान आईडी कार्ड
  • जमीन के कागजात
  • राशन कार्ड
  • बैंक खाते का विवरण
  • पासपोर्ट साइज़ फोटो
  • मोबाइल नंबर

आवेदन प्रक्रिया

मुख्यमंत्री सुखाड़ राहत योजना के लिए आवेदन प्रक्रिया निम्नलिखित है:

  1. सबसे पहले आधिकारिक वेबसाइट (https://msry.jharkhand.gov.in) पर जाएं।
  2. होमपेज पर “Register” विकल्प पर क्लिक करें।
  3. नजदीकी CSC सेंटर पर जाकर आवेदन करें और आवश्यक दस्तावेज जमा करें।
  4. आवेदन पूरा होने के बाद एक रसीद प्राप्त करें और भविष्य के संदर्भ के लिए इसे सुरक्षित रखें।

योजना के लाभ और विशेषताएं

मुख्यमंत्री सुखाड़ राहत योजना के तहत किसानों को निम्नलिखित लाभ और विशेषताएं प्रदान की जाती हैं:

  • किसानों को 3,500 रुपये की वित्तीय सहायता प्रदान की जाती है।
  • इस योजना के माध्यम से 30 लाख किसानों को लाभ प्रदान किया जाएगा।
  • 226 ब्लॉकों को सूखा प्रभावित क्षेत्र घोषित किया गया है, जहां किसानों को सहायता मिल रही है।
  • अब तक 13.66 लाख किसानों को 478 करोड़ रुपये की राशि का भुगतान किया जा चुका है।
  • किसानों का सत्यापन पूरा होने के बाद तीन माह के भीतर भुगतान कर दिया जाएगा।

योजना से संबंधित महत्वपूर्ण जानकारी

मुख्यमंत्री सुखाड़ राहत योजना के तहत 33,63,201 आवेदन प्राप्त हुए हैं। अब तक 13.66 लाख किसानों को 478 करोड़ रुपये की राशि का भुगतान किया जा चुका है। सत्यापन पूरा होने के बाद तीन माह के भीतर किसानों को भुगतान किया जाएगा।

निष्कर्ष

मुख्यमंत्री सुखाड़ राहत योजना झारखंड के किसानों के लिए एक महत्वपूर्ण पहल है, जो सूखे और प्राकृतिक आपदाओं के दौरान उन्हें आर्थिक सहायता प्रदान करती है। इस योजना के तहत किसानों को वित्तीय सहायता प्राप्त करने के लिए आवश्यक दस्तावेज और आवेदन प्रक्रिया को सही तरीके से समझना आवश्यक है। उम्मीद है कि इस आर्टिकल के माध्यम से आपको योजना की पूरी जानकारी प्राप्त हो गई होगी। आप इसे अपने दोस्तों के साथ भी साझा कर सकते हैं।